कलेक्ट्रेट में पदस्थ श्री तिवारी का सेवा निवृत्ति के दिन ही हुआ सारे स्वत्वों का भुगतान

कलेक्ट्रेट में पदस्थ श्री तिवारी का सेवानिवृत्ति के दिन ही हुआ सारे स्वत्वों का भुगतान

अपने जीवन की अगली पारी का उपयोग रचनात्मकता में करें: डॉ. गौरव सिंह

कलेक्टर ने सेवानिवृत्त होने पर श्री तिवारी का पुष्प गुच्छ देकर किया सम्मान

रायपुर 29 फरवरी 2024/ 29 फरवरी चार साल में एक बार आने वाला ऐसा तारीख जिसका इंतजार इस तारीख से ताल्लुक रखने वाले हर व्यक्ति को रहता है। 29 फरवरी को किसी की वैवाहिक वर्षगांठ तो किसी का जन्म उत्सव होता है। लेकिन आज हम बात कर रहे हैं रायपुर कलेक्टर कार्यालय के सहायक ग्रेड दो से सेवानिवृत हो रहे श्री संतोष तिवारी जी की, जो आज पूरे 34 वर्ष 10 माह 13 दिन का सेवा काल पूर्ण कर ससम्मान सेवानिवृत्त हुए।

कलेक्टोरेट कार्यालय में पदस्थ श्री संतोष तिवारी आज सेवानिवृत्त होकर खुशी-खुशी घर लौटे। क्योंकि उनके सारे स्वत्वों का भुगतान तुरंत उसी समय कर दिया गया। उन्होंने कलेक्टर डॉ गौरव सिंह को धन्यवाद देते हुए कहा कि कर्मचारियों के सेवानृवित्त के समय ही जो यह सुविधा देने की पहल की गई है वह सराहनीय है। इससे पूरे अधिकारी-कर्मचारियों को बड़ी मदद मिलेगी। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में श्री संतोष तिवारी को सेवानृवित्त पर बिदाई दी गई। कलेक्टर ने उन्हें पुष्प गुच्छ के साथ शाल और श्रीफल देकर सम्मानित किया और उनके सुदीर्घ एवं स्वस्थ्य जीवन की कामना की। साथ ही उनके परिजनों का भी सम्मान किया।

कलेक्टर डॉ. सिंह ने कहा कि सेवा प्रारंभ से लेकर सेवानिवृत्त के बीच बहुत सारी घटनाएं, बहुत सारी क्रियाकलाप, अलग-अलग जिम्मेदारियां, कई समय चक्र को पार करते हुए इस क्षण तक पहुँचते हैं। यह प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में बहुत बड़ी उपलब्धि और भावनात्मक क्षण होता है। श्री संतोष जी को मैं उनके इस उपलब्धि के लिए बधाई एवं नए जीवन की शुरूवात करने के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

उन्होंने आगे कहा कि श्री तिवारी अनुभवी के साथ उच्च शिक्षित हैं। अपने जीवन की इस पारी को रचनात्मकता की ओर ले जाकर समाज के लिए बेहतर कार्य कर सकते हैं। कलेक्टर ने कहा कि आपकी जो रूचि है उस ओर आगे बढ़ सकते हैं और समाज में अपनी भूमिका सुनिश्चित कर सकते हैं।

डॉ गौरव सिंह ने कहा कि जीवन के अगले पड़ाव को प्रारंभ करने के लिए जल्द दिशा का निर्धारण कर आगे बढ़े, क्योंकि कल से लेकर पहला माह आपके जीवन के अगले पड़ाव की दिशा तय करने में अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा कि कलेक्टोरेट कार्यालय एक परिवार है। हर अधिकारी-कर्मचारी एक सदस्य है। यदि हम सब एक दूसरे की मदद करें, यदि कोई समस्या हो तो उसे बताएं उसका समाधान करने का हरसंभव प्रयास किया जाएगा। कलेक्टर ने कहा कि हर कर्मचारी-अधिकारी अपने जिम्मेदारियों को पूरी तरह निर्वहन करें। यह प्रयास करें कि कोई भी आम नागरिक उनके पास आए तो संतुष्ट होकर वापस जाए।

उल्लेखनीय है कि कलेक्टर डॉ. गौरव सिंह द्वारा निर्देश दिया गया है कि किसी भी विभाग का अधिकारी-कर्मचारी सेवानिवृत्त होता है तो उनको सेवानिवृत्तों के दिन ही सारे स्वत्वों का भुगतान तुरंत उसी दिन दिया जाए। साथ ही उनका पुष्प गुच्छ देकर ससम्मान बिदाई दी जाए।

कार्यक्रम में कलेक्ट्रेट के अन्य कर्मचारियों ने भी पुष्प गुच्छ एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मान किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री विश्वदीप, अपर कलेक्टर श्री बी.बी पंचभाई, श्रीमती निधि साहु सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *