नेशनल लोक अदालत में कुल 4,85,813 प्रकरणों का हुआ निराकरण

रायपुर

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण (नालसा) नई दिल्ली के निर्देशानुसार वर्ष 2023 में आयोजित होने वाले नेशनल लोक अदालत के अनुक्रम में माननीय न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा, मुख्य न्यायाधीश, छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय एवं मुख्य संरक्षक, छ0ग0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन एवं माननीय  न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी, मुख्य न्यायाधीश छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष, छ0ग0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के दिशा-निर्देश में नालसा द्वारा जारी गाईड लाईन के अनुसार छत्तीसगढ़ राज्य में उच्च न्यायालय से लेकर तालुका स्तर तक सभी न्यायालयों में 16-12-2023 को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जाकर राजीनामा योग्य प्रकरणों में पक्षकारों की आपसी सहमति व सुलह समझौता से निराकृत किये गये हैं।
अवलोकनीय है कि सालसा के माननीय कार्यपालक अध्यक्ष न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी के द्वारा जिला न्यायालय धमतरी एवं कांकेर का भ्रमण कर उक्त लोक अदालत की कार्यवाही का निरीक्षण किया गया, इस दौरान उनके द्वारा न्यायाधीशों, अधिवक्ताओं एवं पक्षकारों का लोक अदालत के प्रति उत्साहवर्धन किया गया साथ ही दाम्पत्य प्रकरणों के निराकरण पर पक्षकारों को पौधा प्रदान किया गया। उपरोक्त लोक अदालत में पिछले आयोजित तीन लोक अदालत की तुलना में सबसे ज्यादा कुल 4,85,813 प्रकरणों का निराकरण किया गया है जिसमें प्री-लिटिगेशन के 4,34,931 एवं लंबित मामलों के 50,882 प्रकरणों शामिल है जिसमें कुल 7 अरब, 89 करोड, 98 लाख 37 हजार 892 रूपये का अवार्ड पारित किया गया है।
इस लोक अदालत के संबंध में सालसा के सदस्य सचिव आनंद प्रकाश वारियाल के द्वारा यह भी बताया गया कि सालसा के द्वारा इस बार विशेष तौर से 5 वर्ष, 10 वर्ष से अधिक अवधि के तथा वरिष्ठजनों से संबंधित प्रकरणों को प्राथमिकता से निराकृत किये जाने हेतु विशेष अभियान के तहत उक्त लोक अदालत में 5 वर्ष अवधि वाले 932, 10 वर्ष या उससे अधिक अवधि वाले 82 तथा वरिष्ठजन के 328 प्रकरणों को राजीनामा के आधार पर निराकृत किये गये हैं, जो कि एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। ज्ञात हो कि मुख्य न्यायाधीश माननीय न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा के निर्देशानुसार वर्ष 2023 में पूर्व आयोजित तीनों लोक अदालतों में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों, जिला न्यायाधीशों एवं फैमिली कोर्ट न्यायाधीश को सम्मानित करने के लिये सालसा द्वारा छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय में दिनांक 14 अक्टूबर 2023 को भव्य कार्यक्रम का आयोजन कर सम्मानित किया गया, जिसके परिणाम स्वरूप ही इस बार की लोक अदालत में निराकृत प्रकरणों की संख्या में वृद्धि हुई है।

गौरतलब है कि नालसा के निर्देशानुसार वर्ष 2023 के प्रथम नेशनल लोक अदालत दिनांक 11-2-2023 में कुल 3,11,607, द्वितीय नेशल लोक अदालत दिनांक 13-5-2023 में कुल 3,94,573, तृतीय नेशनल लोक अदालत दिनांक 09-09-2023 में 4,72,177 प्रकरणों का निराकरण किया गया है, जिससे स्पष्ट है कि प्रत्येक लोक अदालतों में निराकृत प्रकरणों की संख्या में निरंतर वृद्धि हुई है।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *