मतदान के बाद ई.वीएम.. मशीनों की वापसी का प्रोटोकॉल जारी

दुर्ग

विधानसभा आम निर्वाचन-2023 हेतु आकस्मिक आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु सेक्टर अधिकारियों को प्रदाय की गई ई.वी.एम. वीवीपीएटी मशीन्स एवं सामग्री की थैलियों को जिले के रिसीविंग सेंटर शंकराचार्य इंजीनियरिंग महाविद्यालय जुनवानी भिलाई में रिसीव किया जाएगा। इसके तत्काल पश्चात उक्त मशीनों एवं सामग्री की थैलियों को जिला कार्यालय कलेक्ट्रेट के पीछे स्थित ई.वी.एम. वीवीपीएटी वेयरहाउस में स्थानांतरित किया जाएगा।

जिला कार्यालय के ई.वी.एम. वेयरहाउस में भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार स्ट्रांग रूम के मानक अनुरूप आवश्यक व्यवस्थाएं की गई है। अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बी.के. दुबे से प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदान दिवस को मतदान के पश्चात् श्रेणी ’’ए’’ अर्थात् ’’मत डाली गई ई.वी.एम. मशीन ’’, श्रेणी ’’बी’’ अर्थात् नॉन फंक्शनल पोल्ड ई.वी.एम. मशीन (वास्तविक मतदान के दौरान बदली हुई) उक्त दोनों श्रेणी की मशीनों को रिसीविंग सेंटर श्री शंकराचार्य इंजीनियरिंग महाविद्यालय जुनवानी भिलाई के स्ट्रांग रूम में विधानसभा वार अलग-अलग कमरों में रखा जाएगा। इसके अलावा श्रेणी ’’सी’’ नान फंक्शनल अनपोल्ड (मॉक पोल के दौरान बदली हुई) ई.वी.एम. एवं श्रेणी ’’डी’’ अप्रयुक्त रिजर्व ई.वी.एम. मशीन उक्त दोनों ’’सी’’ एवं ’’डी’’ श्रेणी की मशीन्स को पोल्ड ई.वी.एम. स्ट्रांग रूम से अलग परिसर में रखा जाना है।

जिसके लिए जिला कार्यालय द्वारा जिला निर्वाचन कार्यालय स्थित ई.वी.एम. वीवीपीएटी वेयरहाउस का चयन किया गया है। रिसीविंग सेंटर शंकराचार्य इंजीनियरिंग महाविद्यालय जुनवानी भिलाई से जिला कार्यालय के कलेक्ट्रेट स्थित ई.वी.एम. वेयरहाउस तक उक्त ’’सी’’ एवं ’’डी’’ श्रेणी की मशीनों के परिवहन के दौरान एवं जिला कलेक्ट्रेट के पीछे स्थित ई.वी.एम. वेयरहाउस में इन मशीन्स की सीलिंग के दौरान राजनीतिक पार्टी के जिला अध्यक्ष अथवा अधिकृत प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *