इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में प्रवेशित विद्यार्थियों के लिए उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित

रायपुर
इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर में स्नातक पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें कृषि महाविद्यालय रायपुर, स्वामी विवेकानंद कृषि अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी महाविद्यालय रायपुर और खाद्य प्रौद्योगिकी महाविद्यालय रायपुर के विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल ने अपने संबोधन में कहा कि जब लक्ष्य बनाकर दृढ़ संकल्प लेकर कार्य किया जाता है तब सफलता अवश्य मिलती है। उन्होने बताया कि विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यम से कृषि में नये-नये आयाम साकार हुए हैं, जिसका लाभ किसानों बुद्धिजीवियों और जनमानस तक पहुंचा है। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में अधिष्ठाता छात्र कल्याण डॉ. संजय शर्मा, कृषि महाविद्यालय रायपुर के अधिष्ठाता डॉ. जी.के. दास, खाद्य प्रौद्योगिकी महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. ए.के. दवे उपस्थित थे।
शैक्षणिक सत्र 2023-24 में प्रवेशित विद्यार्थियों को उन्मुखीकरण कार्यक्रम के तहत विश्वविद्यालय के प्रशासनिक, शैक्षणिक, सांस्कृति एवं खेल-कूद अधिकारियों ने विश्वविद्यालय में संचालित गतिविधियों एवं सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। विश्वविद्यालय एम.आई.एस. प्रभारी डॉ. आर.आर. सक्सेना ने विद्यार्थियों को ऑनलाईन शैक्षणिक शुल्क जमा करने, रशीद निकालने, परीक्षा प्रवेश पत्र निकालने की प्रक्रिया के बारे में बताया। नेहरू पुस्तकालय के पुस्तकालाध्यक्ष डॉ. माधव पण्डेय ने पुस्तकालय में निहित सुविधाओं एवं ई. पाठशाला एप के माध्यम से अध्ययन करने के बारे में जानकारी दी उन्होंने बताया कि विद्यार्थियों के अध्ययन हेतु पुस्तकालय प्रातः 10ः00 बजे से रात्रि 8ः00 बजे तक खुला रहता है।
कृषि महाविद्यालय के शैक्षणिक प्रभारी डॉ. आर.पी. कुजुर ने विद्यार्थियों को कृषि महाविद्यालय की शैक्षणिक गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय के शैक्षणिक प्रभारी डॉ. अनुराग तोमर ने विद्यार्थियों को कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय की शैक्षणिक गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। खाद्य प्रौद्योगिकी महाविद्यालय के शैक्षणिक प्रभारी डॉ. दीपक माहापात्रा ने विद्यार्थियों को खाद्य प्रौद्योगिकी महाविद्यालय की शैक्षणिक गतिविधियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। विद्यार्थियों को परीक्षा प्रणाली के बारे में डॉ. एन.आर. रंगारे एवं डॉ. अनिल वर्मा ने विस्तृत जानकारी दी। महाविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियांं को मिलने वाली छात्रवृत्ति के बारे में डॉ. जी.पी. बंजारा ने बताया। बी.एस.सी. पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष में छात्रों हेतु आयोजित ग्रामीण कृषि कार्य अनुभव कार्यक्रम की जानकारी डॉ. जी.डी. साहू ने दी। सांस्कृतिक एवं खेल-कूद गतिविधियों के बोरे में डॉ. वी.बी. कुरूवंशी एवं डॉ. आर.के. ठाकुर ने बताया। एन.सी.सी. एवं एन.एस.एस. गतिविधियों के बारे में डॉ. ऐश्वर्या टंडन एवं डॉ. पी.के सांगोड़े ने विस्तृत जानकारी दी। डॉ. जेनू झा ने विद्यार्थियों हेतु उपलब्ध छात्रावास सुविधा के बारे में छात्रों को अवगत करया। डॉ. प्रफुल्ल कटरे ने मानव मूल्य के बारे में छात्र-छात्राओं को बताया। कार्यक्रम के प्रारंभ में स्वागत भाषण डॉ. संजय शर्मा ने दिया। कार्यक्रम का संचालन एवं आभार प्रदर्शन वैज्ञानिक डॉ. राम मोहन सावू ने किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित थे।
शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *