सीएसईबी के जूनियर क्लब में पश्चिम क्षेत्र के निवासियों ने जताया राजस्व मंत्री का आभार

कोरबा

शहर के पश्चिम क्षेत्र के निवासियों ने सीएसईबी, एचटीपीपी के जूनियर क्लब में राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल का आभार जताया। एक कार्यक्रम का आयोजन कर लोगों ने मंत्री को बीते 5 वर्ष में हुए विकास कार्यों के लिए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर पश्चिम क्षेत्र में जो विकास कार्य हुए हैं। उनकी जमकर चर्चा रही। लोग आपस मे यह बात कह रहे हैं कि जो काम कई साल से अटके हुए थे। उन्हें पिछले पांच साल में प्राथमिकता के साथ कराया गया है।


समारोह में पहुंचे राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि पिछले 5 वर्षों में जब मुझे अधिक अधिकार मिले हैं। सोनिया गांधी, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा के अध्यक्ष चरणदास महंत और डिप्टी सीएम टीएस सिंहदेव के आशीर्वाद से मुझे मंत्री बनने का अवसर मिला।तब से खास तौर पर पश्चिम क्षेत्र में कई काम कराये। दर्री वासियों की जरूरत को महसूस करते हुए। नया तहसील बनाया गया। अब उसके भवन की स्थापना भी हो चुकी है। हर घर बिजली, हर घर नल कनेक्शन के साथ ही सड़कों का विकास किया गया है। पहले पश्चिम क्षेत्र के लोगों को कोरबा तक पहुंचने में आधे का समय लग जाता था। अब वह 15 मिनट में कोरबा तक पहुंच सकते हैं। सड़क ऐसी बनी है जो कम से कम आने वाले 30 सालों तक खराब नहीं होगी। यह लोगों को एक बड़ी सौगात है। पश्चिम क्षेत्र में जो विकास कार्य हुए हैं। वह आने वाले 50 साल तक उसका असर दिखेगा। बीजेपी की सरकार ने जो काम 15 साल में नहीं किया। हमने पिछले 5 सालों में किया है। हर वर्ग का ध्यान रखा है। हर समुदाय तक विकास कार्य को पहुंचाया है।


शहर का पश्चिम क्षेत्र लंबे समय से उपेक्षित था। लेकिन जब से नगर पालिक निगम में कांग्रेस की शहर सरकार बनी। तब से पश्चिम क्षेत्र के विकास पर खास फोकस रहा। आज मैं क्षेत्र के लोगों को भी धन्यवाद देता हूं। जिन्होंने यह कार्यक्रम आयोजित किया।
अग्रवाल ने कहा कि आप सभी के स्नेह और आशीर्वाद से ही मुझे कोरबा के विकास कार्यों को नया आयाम देने नई ऊर्जा मिलती है। सामाजिक कार्य हो या अन्य रचनात्मक कार्य, मेरी पूर्ण सहभागिता रहती है। इन पांच सालो में प्रदेश सरकार ने सर्वहारा वर्ग को खुशहाल बनाने के लिए काम किया है। सामाजिक दृष्टि से हमने बेहतर काम किये और सभी समाज का अपना भवन हो, इसके लिए मैने अपने तरफ से पहल की, ताकि हर समाज को विवाह सहित सभी छोटे बड़े कार्याे के लिए अलग से किराये का भवन न लेना पड़े।
जिले में मेडिकल कॉलेज की स्थापना चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में एक माईलस्टोन है। यह सब आपके स्नेह और आशीर्वाद से ही संभव हो सका। आपके स्नेह और आशीर्वाद ऐसे ही बना रहे। मैं विश्वास दिलाता हॅू कि जब तक सांसे चलती रहेगी तब तक मैं कोरबा की माटी का ऋण चुकाता रहुंगा।
खचाखच भरा रहा हाल, बाहर भी रही भीड़-
सीएसईबी, एचटीटीपी के जूनियर क्लब में रविवार को आयोजित कार्यक्रम में दर्री, जमनीपाली, अयोध्यापुरी, गोपालपुर और स्याहीमुड़ी के साथ ही नगर पालिक निगम के पश्चिम क्षेत्र के लोग बड़ी तादात में उपस्थित रहे। हाल खचाखच भरा रहा और बाहर भी भीड़ लगी रही। जिन्होंने मंत्री से भेंट कर उन्हें विकास पुरुष की संज्ञा दी और क्षेत्र के विकास के लिए धन्यवाद व आभार जताया  जैसे पश्चिम क्षेत्र के लोगों को अब हर घर बिजली, नल कनेक्शन, डोर टू डोर कचरा कलेक्शन, स्ट्रीट लाइट, आंगनबाड़ी,मोबाइल मेडिकल यूनिट की सुविधा मिल रही। है जिससे उनके रोजमर्रा की समस्याओं का काफी हद तक समाधान हुआ है।
1320 मेगावाट का लगेगा प्लांट जिसकी लागत 13000 करोड़-
खेल प्रशासक अनिल द्विवेदी ने कहा कि पूरे प्रदेश को ऊर्जाधानी से ही बिजली मिलती है। और बीजली का एक सबसे बड़ा प्रोजेक्ट यदि कहीं लग रहा है। तो वह कोरबा जिला ही है। पूरे प्रदेश के साथ ही कोरबा वासियों को अबाध बिजली आपूर्ति होती रहे। इसके लिए एचटीटीपी दर्री में 1320 मेगावाट का एक नया पावर प्लांट राज्य सरकार द्वारा बनाया जा रहा है। जिसकी लागत 13000 करोड़ रुपये है। यह सब राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के कार्यकाल में ही संभव हुआ है। वह काफी समय से प्लांट के विस्तार की मांग कर रहे थे। राज्य सरकार के ऊर्जा विभाग ने भी इसकी जरूरत को महसूस किया और अब इस पावर प्लांट की स्थापना की दिशा में काफी सारे काम हो चुके हैं। जल्द ही इस क्षेत्र में एक बड़ा पावर प्लांट लगेगा। जो कि राज्य की ऊर्जा जरूरत को पूरा करने में एक मील का पत्थर साबित होगा। क्षेत्र के लोगों के लिए रोजगार के भी नए अवसर पैदा होंगे।


360 परिवारों को एनटीपीसी की जमीन पर मिला स्थाई पट्टा-
सुमेधा के वरिष्ठ नागरिक भजन सिंह कंवर ने कहा कि दर्री डैम से लगे प्रगति नगर और नरियाखाड़ के 360 परिवार ऐसे हैं। जोकि लंबे समय से एनटीपीसी द्वारा अधिग्रहित जमीन पर काबिज हैं। इन सभी को राजस्व मंत्री अग्रवाल के प्रयासों से स्थाई पट्टा उपलब्ध कराया गया है। इन्हें एनटीपीसी से घर निर्माण के लिए ईंट व आर्थिक सहयोग भी दिलाई गई है। इन सभी के स्थाई आवास की व्यवस्था की गई है। इतना ही नहीं इस क्षेत्र में सामुदायिक भवन, मंच, सड़क, आंगनबाड़ी व सरकारी राशन दुकान की स्थापना भी हो चुकी है। जो प्रगति नगर के निवासियों के लिए एक बड़ी सौगात है।
गोपालपुर में नवीन केंद्रीय विद्यालय की मिली सुविधा-
पूर्व पार्षद अघन बाई ने कहा कि एनटीपीसी परिसर के भीतर केंद्रीय विद्यालय बीसीपीपी क्रमांक 4 वर्षों से संचालित था। जो बालको प्रबंधन द्वारा स्थापित किया गया था। लेकिन बालको ने इसे बंद करने का निर्णय लिया। प्रत्येक वर्ष एक-एक कक्षाएं बंद की जा रही थी। जिससे इस क्षेत्र के निवासियों को केंद्रीय विद्यालय स्तर की शिक्षा से महरूम होना पड़ रहा था। इस दिशा में भी जयसिंह अग्रवाल ने प्रयास तेज किये और गोपालपुर में एक सर्वसुविधा युक्त केंद्रीय विद्यालय बनवाया। वर्तमान में गोपालपुर में केंद्रीय विद्यालय का एक भव्य भवन मौजूद है। जहां केंद्रीय विद्यालय का संचालन भी प्रारंभ हो चुका है। पश्चिम क्षेत्र के निवासियों के लिए यह एक बड़ी सौगात है। यही नहीं दर्री वासियों की मांग पर दर्री में भी एक हाई स्कूल की स्थापना की गई है। गोपालपुर, अयोध्यापुरी और एनटीपीसी स्कूल का संचालक स्वामी आत्मानंद स्कूल के तौर पर किया जा रहा है।
सड़क, नाले और हमारे क्लीनिक की मिली सौगात-
यादव समाज के पदाधिकारी नाथू लाल यादव ने कहा कि पश्चिम क्षेत्र के ऐसे कई मोहल्ले हैं। जहां ढेर सारे विकास कार्य करवाए गए हैं। भवानी मंदिर के पास सामुदायिक भवन, गोपालपुर के आईबीपी से लेकर चोरभट्ठी तक सड़क का निर्माण। सुमेधा, गोपालपुर, अयोध्यापुरी स्कूलों का उन्नयन । पश्चिम क्षेत्र के प्रत्येक मोहल्ले को सड़क से जोड़ा गया है। हमर क्लीनिक की स्थापना कर स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया गया है। वर्षों से जो कार्य अधूरे थे। उन सबको पूर्ण कराया  गया ।
अधिवक्ता अभिताब श्रीवास्त ने कहा कि कोरबा से गोपालपुर तक 04 लेन व 02 लेन सड़क निर्माण। दर्री मुख्य मार्केट की दुकानें ना टूटे इसलिए यहॉ 04 लेन सड़क के बदले 02 लेन सड़क निर्माण। दर्री मुख्य मार्केट के दुकानों के सामने पेवर ब्लॉक बिछाने का कार्य।दर्री डेम के समकक्ष भवानी मंदिर पुल का निर्माण एवं दर्री डेम से बरमपुर तक सड़क निर्माण स्वीकृत। दर्री डेम से प्रगति नगर, नदियाखार होते हुए कोरबा तक सड़क निर्माण बड़ी उपलब्धि है।
डॉ एल पी साहू ने कहा कि  दर्री में हाईस्कूल की स्थापना। दर्री हाईस्कूल के पास हमर क्लीनिक का निर्माण कार्य प्रगति पर हैं। गोपालपुर में सामान्य आईटीआई का संचालन हो रहा है। गोपालपुर, अयोध्यापुरी व एनटीपीसी स्कूल का स्वामी आत्मानंद स्कूल में परिवर्तन कराया गया है तथा दर्री भवानी मंदिर के पास छत्तीसगढ़ महतारी मंदिर का निर्माण एवं प्रतिवर्ष हरेली महोत्सव का भव्य आयोजन होता है। भवानी मंदिर के पास भव्य सामुदायिक भवन का निर्माण। साडा कालोनी छाया बाजार के पीछे से अटल आवास तक नाला एवं सड़क निर्माण कार्य प्रगति पर। गोपालपुर से डुमरमुड़ा तक सड़क निर्माण। गोपालपुर आईबीपी मुख्य मार्ग से चोरभट्ठी तक सड़क निर्माण कार्य भी प्रमुख उपलब्धियों आता हैं।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *