जी-20 शिखर सम्मेलन 18-19 को रायपुर में

भिलाई।

जी-20 समूह के चौथे वर्किंग ग्रुप का शिखर सम्मेलन नवा रायपुर में 18 व 19 सितंबर को होने जा रहा है। 20 देशों के 50 से ज्यादा अतिविशिष्ट प्रतिनिधियों के छत्तीसगढ़ की धरा पर पहुंचने पर परंपरागत ढंग से स्वागत प्रख्यात लोक वाद्य संग्राहक रिखी क्षत्रिय के समूह द्वारा किया जाएगा। इसके लिए रिखी क्षत्रिय का समूह अपनी तैयारियों और पूर्वाभ्यास में जुटा है। रिखी का समूह विदेशी मेहमानों का स्वागत करने पूरी तरह छत्तीसगढ़ी रंग में रंगा होगा।

परंपरागत स्वागत की जवाबदारी लोकवाद्य संग्राहक रिखी क्षत्रिय को

इस्पात नगरी भिलाई के मरोदा सेक्टर निवासी व भिलाई स्टील प्लांट के पूर्व कर्मी रिखी क्षत्रिय ने बताया कि विदेशी मेहमानों के छत्तीसगढ़ की धरा पर उतरते ही विमानतल पर चंदन का टीका लगा कर स्वागत करेंगे। वहीं उनके समूह के 10 कलाकार कवर्धा का बैगा करमा और दंतेवाड़ा का माड़ी करमा नृत्य करते हुए उन्हें साथ लेकर आएंगे। इस दौरान फूलों की पंखुड़ियों के साथ इन विदेशी मेहमानों का अभिनंदन किया जाएगा। रिखी ने बताया कि पुष्प वर्षा के साथ ही उनके समूह के दो कलाकार तुरही वादन करेंगे। वहीं स्वागत स्थल पर छत्तीसगढ़ की संस्कृति को दर्शाया जाएगा।
अंतरराष्ट्रीय महत्व के इस आयोजन को देखते हुए रिखी क्षत्रिय व उनका समूह अभ्यास में जुटा है। वहीं कड़ी सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए रिखी और उनके समूह को जरूरी दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं। रिखी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की धरती पर विदेशी मेहमानों का स्वागत करना उनके लिए गौरव का अवसर है और इसके लिए उनके समूह के लोग तमाम तैयारियां कर रहे हैं। रिखी क्षत्रिय के साथ उनके समूह में प्रदीप, संजीव कुमार, जया, शशि, नेहा, प्रियंका, अनुराधा, पारस, नवीन, अभिषेक, वेदप्रकाश, वेन,  कुलदीप सार्वा, उग्रसेन देवदास, भोला यादव, प्रमोद व मालती शामिल हैं।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *