सीएम ने सरगुजा संभाग के युवाओं के साथ की भेंट-मुलाकात

अंबिकापुर

संभागीय मुख्यालय में विशाल इंडोर स्टेडियम बनाया जायेगा। रायपुर के इंडोर स्टेडियम की तरह होगा। इसके लिए 100 करोड़ रुपए प्रदान करने घोषणा की गई है।राजधानी रायपुर की नालंदा परिसर की तरह अंबिकापुर में डिजिटल लाइब्रेरी की घोषणा।मूक बधिर बच्चों के लिए राज्य स्तर पर एक रेजिडेंशियल कॉलेज खोला जाएगा। अभी तक ऐसे बच्चों के लिए केवल स्कूल की सुविधा है। सुरगुजा संभाग के सभी जिलों में शासकीय बीएड कॉलेज खोले जाएंगे।जिला मुख्यालय सूरजपुर में युसु खेल अकादमी खोले जाने की घोषणा।मनेंद्रगढ़ चिरमिरी भरतपुर जिले में लॉ कॉलेज की घोषणा।

भेंट-मुलाकात के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि युवाओं को जोश से सराबोर देखकर अच्छा लगता है, सबसे मिलकर बहुत अच्छा लगा। उन्होंने कहा कि सपनों का छत्तीसगढ़ कैसा हो, यह विचार सुनकर अच्छा लगा।

मनेन्द्रगढ़-भरतपुर-चिरमिरी जिले से आई सोनू कुमार ने दृष्टिबाधित छात्रों की चेन्नई में इलाज की मांग की

जिसे मुख्यमंत्री ने त्वरित स्वीकृत किया और कहा कि सभी जांच हम कराएंगे जहां भी हो वहां इलाज कराएंगे। महिलाओं के मान-सम्मान की बात युवा साथी ने कही, उनके सम्मान और अस्मिता के लिए हमने निर्णय लिया और महिलाओं से छेड़छाड़ करने के दोषियों को शासकीय नौकरी से प्रतिबंधित किया। पूरे प्रदेश में 33 नए महाविद्यालय खोले गए, 02 नए विश्वविद्यालय खोले, 04 मेडिकल कॉलेज खोले और 04 स्वीकृत किए गए हैं।

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में लंबी कूद, 100 मीटर दौड़ एवं कुश्ती के खेल में 18 से 40 वर्ष के आयु वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को उत्कृष्ट खिलाड़ी घोषित किया जाएगा, यह प्रावधान इसी वर्ष से लागू होगा। हमने 36 आईटीआई के उन्नयन के लिए टाटा टेक्नोलॉजिस से एमओयू किया। दुनिया में जो डिमांड है, वही ट्रेड आईटीआई में होंगे।
हमने युवाओं को सरकारी नौकरी दी। व्यापम, लोक सेवा आयोग, छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कंपनियों तथा स्वामी आत्मानंद स्कूलों में हुई भर्ती से 42 हजार से ज्यादा युवाओं को नौकरी मिली है।

 

हमने प्रतियोगी परीक्षाओं के परीक्षा शुल्क माफ करने का फैसला लिया। जिससे 22 लाख से अधिक युवाओं की करीब 33 करोड़ रुपए की फीस माफ हुई है। हमारी प्राथमिकता युवाओं को रोजगार देने की है। हमारी सरकार लगातार सभी वर्ग के लोगों के हित में कार्य कर रही है।

बलरामपुर के वाड्रफनगर स्थित रानी दुर्गावती महाविद्यालय की अनुराधा कुशवाहा ने कहा कि मैं भविष्य में शिक्षिका बनना चाहती हूं। जिले में बी एड कॉलेज नहीं है। इसे सुनकर मुख्यमंत्री ने कहा कि सरगुजा सम्भाग के सभी जिलों में बी एड कॉलेज खोला जाएगा। बलरामपुर जिला के शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर के छात्र मेघनाथ भवन ने मुख्यमंत्री को जिले में महाविद्यालय शुरू करने के लिए धन्यवाद दिया।

मेघनाथ ने मुख्यमंत्री से महाविद्यालय में अतिरिक्त भवन एवं भौतिक शास्त्र, वनस्पति शास्त्र, राजनीतिक शास्त्र, विज्ञान विषय हेतु स्नातकोत्तर की कक्षाएं प्रारंभ करने की मांग की। मुख्यमंत्री ने महाविद्यालय भवन में 5 नए कमरे के निर्माण कराने की बात कही साथ ही अगले सत्र से महाविद्यालय में भौतिक शास्त्र, वनस्पति शास्त्र, जैसे नए संकाय शुरू करने की बात कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहली बार शासकीय तौर पर आत्मानंद स्कूल, महाविद्यालय खोले जा रहे हैं

अब 10 अंग्रेजी महाविद्यालय खोले गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले साल से सभी जिले में उत्कृष्ट महाविद्यालय आरंभ किया जाएगा। के आर टेक्निकल कॉलेज की छात्रा तमन्ना सिंह ने मुख्यमंत्री से दिव्यांग महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं के लिए स्पेशल कॉलेज खोलने की मांग की।तमन्ना लिप्सिंग से समझती हैं टीचर क्या कहना चाहते हैं। मुख्यमंत्री से तमन्ना की बात सुनी और अगले साल से मूकबधिर बच्चो के लिए स्पेशल कॉलेज खोलने की घोषणा की।

जशपुर के नवीन महाविद्यालय आरा की छात्रा निकिता चौहान ने मुख्यमंत्री से कहा कि कॉलेज भवन नहीं होने से बहुत समस्या होती है, उन्होंने कॉलेज भवन  निर्माण कराने का निवेदन किया। मुख्यमंत्री ने कॉलेज के लिए भवन निर्माण के सम्बंध में बताया कि भवन के लिए बजट में स्वीकृति दे दी गई है, जल्द ही भवन निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा। मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर के छात्र अमन कौशिक ने मुख्यमंत्री से पूछा – इतने व्यस्त समय के बाद आपके समय प्रबंधन और मनोरंजन का क्या तरीका है ।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अमन से कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद समय बहुत कम मिलता है। समय निकाल कर परिवार के साथ समय बिताना, दोस्तो के साथ हंसी-मजाक करना, पुस्तकें पढ़ना, (विशेषकर महापुरुषों की जीवनी) और संगीत सुनना पसंद है।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *