आज छत्तीसगढ़ के 119 मेधावी बच्चे हेलीकॉप्टर से करेंगे सैर

रायपुर

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के अनुरूप प्रदेश में पहली बार कक्षा 10वीं और 12वीं के मेधावी बच्चों को अनूठे अंदाज में सम्मानित किया जाएगा। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल की वर्ष 2022 की वार्षिक परीक्षा में कक्षा 10वीं और 12वीं के 125 छात्र-छात्राओं ने प्रावीण्य सूची में जगह बनाई है। इनमें कक्षा 10वीं के 90 और कक्षा 12वीं के 35 छात्र शामिल है। इन सभी को हेलीकॉप्टर से सैर कराई जाएगी।
मुख्यमंत्री की घोषणा पर अमल करने आज सुबह 8 बजे से मेधावी विद्यार्थियों को हेलीकॉप्टर से आनंदमयी यात्रा (जायराइड) कराने का निर्णय लिया गया है। हेलीकॉप्टर में 7 सीटें होने के कारण एक बार में 7 विद्यार्थी ही सैर कर पाएंगे। मेधावी 125 विद्यार्थियों को सैर कराने के लिए हेलीकॉप्टर 18 बार उड़ान भरेगा।
छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मेधावी विद्यार्थियों के अभिभावकों से हस्ताक्षर युक्त सहमति पत्र मांगा है। माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव प्रोफेसर वी.के. गोयल ने बताया कि अब तक 119 विद्यार्थियों के अभिभावकों से सहमति पत्र प्राप्त हो चुका है। इन सभी विद्यार्थियों ने हेलीकॉप्टर से सैर करने की इच्छा जाहिर की है।
उल्लेखनीय है कि 6 मई को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के रघुनाथनगर में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में पहुंचे थे। यहां स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल की छात्रा स्मृति ने मुख्यमंत्री से पूछा था कि मैं कब हेलीकॉप्टर में बैठूंगी। मुख्यमंत्री ने इस पर कहा था कि जब तुम 12वीं कक्षा में टॉप करोगी, तब तुमकों हेलीकॉप्टर में बैठाएंगे। उस समय स्मृति जिद पर अड़ गई कि उसे आज ही हेलीकॉप्टर में बैठना है। मुख्यमंत्री ने उसकी जिद को पूरी करते हुए न सिर्फ उसे, बल्कि और भी बहुत से विद्यार्थियों को हेलीकॉप्टर की सैर कराई थी। मुख्यमंत्री ने 5 मई को घोषणा की थी कि इस बार कक्षा 10वीं और 12वीं के टॉपरों को हेलीकॉप्टर की सैर कराएंगे।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *