36वें नेशनल गेम में छत्तीसगढ़ सॉफ्टबाल पुरूष टीम पहुंची फाइनल में

रायपुर

36वें नेशनल गेम में छत्तीसगढ़ का शानदार प्रदर्शन जारी है। छत्तीसगढ़ की टीम अब तक हुए मुकाबले में 2 गोल्ड सहित 11 पदक जीत चुकी है। अपने उम्दा प्रदर्शन को जारी रखते हुए सोमवार को राज्य की सॉफ्टबॉल पुरुष टीम ने पिछले बार के विजेता महाराष्ट्ऱ की टीम को 9-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया है। छत्तीसगढ़ की सॉफ्टबॉल पुरुष टीम अपने पूल के सभी टीमों को हराकर टॉप पर है। फाइनल मुकाबला आज खेला जाएगा।

सॉफ्टबॉल पुरुष टीम का पहला मैच चंडीगढ़ के साथ हुआ। प्रारंभ  में चंडीगढ़  ने मुकाबला करने की कोशिश की, लेकिन मानस केसरवानी एवं दीपक कंवर की जोरदार पिचिंग के आगे चंडीगढ़ के बैटर ने घुटने टेक दिए। छत्तीसगढ़ टीम की बैटिंग में सौरव यादव और वी मोहन राव ने बाउंड्री के बाहर तक हिट मारकर 2 होम रन बना लिए। आर्यन ताम्रकार और सोनू गुप्ता ने जोरदार बैटिंग की तथा छत्तीसगढ़ ने चंडीगढ़ को एक तरफा 8-0 से हराकर मैच अपने नाम कर लिया।

इसके बाद छत्तीसगढ़ सॉफ्टबॉल पुरुष टीम का मुकाबला पिछले बार के विजेता टीम महाराष्ट्र के साथ हुआ। छत्तीसगढ़ की टीम ने पहले इनिंग से जोरदार शुरुआत करते हुए महाराष्ट्र को 7-0 से पीछे कर दिया। छत्तीसगढ़ के आर्यन ताम्रकार ने होम रन बनाया जिसके कारण निखिल नायक, सोनू गुप्ता और आर्यन ताम्रकार ने मिलकर एक साथ 3 रन बना लिए। इसके बाद वी मोहनराव, मानस केसरवानी, किशन महानद, और सुनील राज ने एक-एक रन बनाया और पहली इनिंग में छत्तीसगढ़ 7-0 से आगे हो गई। दूसरी इनिंग में महाराष्ट्र ने जोरदार मुकाबला किया और छत्तीसगढ़ को रन बनाने का मौका नहीं दिया। दूसरी इनिंग में भी छत्तीसगढ़ 7-0 से आगे थी।  तीसरी इनिंग में फिर से आर्यन ताम्रकार ने होम रन मारा और वी मोहन राव ने दौड़कर एक रन बनाया। इस प्रकार तीसरी इनिंग में छत्तीसगढ़ 9-0 से आगे हो गई। चौथी इनिंग में फिर दोनों ही टीमें कोई रन नहीं बना सकी और मैच 9-0 पर खत्म हो गया। इस प्रकार छत्तीसगढ़ सॉफ्टबॉल पुरुष  टीम फाइनल में पहुंच गई है। फाइनल में छत्तीसगढ़ का मुकाबला, महाराष्ट्र और आंध्रप्रदेश के मैच में जो टीम जीतेगी उसके साथ कल खेला जाएगा।
वहीं छत्तीसगढ़ की सॉफ्टबॉल महिला टीम का मुकाबला आज दिल्ली और पंजाब से हुआ। पहले मुकाबले में दिल्ली ने 5 इनिंग तक छत्तीसगढ़ को एक भी रन बनाने का मौका नहीं दिया, लेकिन छत्तीसगढ़ के टीम ने भी बेहतरीन फील्डिंग और पीचिंग का प्रदर्शन किया। बरखा यादव, अंजू तांडी, कविता सिन्हा, गंगा सोना और जानकी साहू ने असंभव से लगने वाले कैच पकड़े, जिसके कारण दिल्ली की टीम 5 इनिंग तक कोई भी रन नहीं बना सकी। इसके बाद ट्राई ब्रेकर राउंड खेल गया। छठे इनिंग में दिल्ली ने अपने तीन बेस लोड कर लिए, और मैच को रोमांचक स्थिति पर पहुंच गया। मैच में अंजू तांडी की जोरदार पिचिंग की वजह से दिल्ली की टीम एक बार फिर शून्य रन पर आउट हो गई। मैच जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा था और रोमांचक होता जा रहा था। इसके बाद दिल्ली ने भी छत्तीसगढ़ को शून्य पर आउट कर दिया। सातवीं  इनिंग में दिल्ली ने छत्तीसगढ़ के विरुद्ध 2 रन बना लिए। लेकिन छत्तीसगढ़ के बैटर सोनाली साव, बरखा यादव, कविता सिन्हा एवं जानकी साहू की जोरदार बैटिंग तथा अरुणा पुनेम, कविता सिन्हा और जानकी साहू के बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए छत्तीसगढ़ के खाते में 3 रन जोड़ दिए। इस प्रकार 3-2 रन से छत्तीसगढ़ की टीम दिल्ली को हराकर पूल टॉपर बन गई।
इसके बाद छत्तीसगढ़ महिला सॉफ्टबॉल टीम का मैच पंजाब के साथ हुआ, लेकिन पंजाब से छत्तीसगढ़ की महिला सॉफ्टबॉल टीम 7-0 से पीछे रह गई। छत्तीसगढ़ की सॉफ्टबॉल महिला टीम पूल की टॉपर होने के कारण प्रतियोगिता में बनी हुई है। कल छत्तीसगढ़ महिला टीम का मैच एक बार फिर से केरल के साथ होगा। छत्तीसगढ़ और केरल के मैच में जो भी टीम जीतेगी वह फाइनल खेलेगी तथा हारने वाली टीम को कांस्य पदक मिलेगा।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *