छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग ने की दंतेवाड़ा में जन सुनवाई

दंतेवाड़ा

छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक की अध्यक्षता एवं सदस्य नीता विश्वकर्मा, अर्चना उपाध्याय की उपस्थिति में सोमवार को जिला संयुक्त कार्यालय के डंकिनी सभाकक्ष में जन सुनवाई रखी गयी। जिसमें महिला उत्पीड़न से संबंधित प्रकरणों पर जनसुनवाई की गई। सुनवाई में कुल 10 प्रकरण रखे गये थे। उसमें से आज 9 प्रकरणों को निराकरण करते हुए नस्तीबद्ध किया गया। साथ ही एक प्रकरण की सुनवाई हेतु रायपुर स्थानांतरण किया गया।

जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित सुनवाई में मुख्य रूप से महिलाओं से मारपीट, मानसिक, शारीरिक, कार्यस्थल पर प्रताड़ना से संबंधित प्रकरणों पर सुनवाई की गई। बैठक में कलेक्टर विनीत नंदनवार और एसपी सिद्धार्थ तिवारी से एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग के मामलों पर चर्चा किया गया। राष्ट्रीय महिला आयोग द्वारा दिए गए प्रोजेक्ट पर छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग एक बेहतर कार्य कर रही है आज आयोग की अध्यक्ष ने वर्ष 2020 से 2022 इन तीन सालों में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग के कितने अपराध दर्ज हुए इसकी जानकारी ली। साथ ही एक स्पेशल स्टेट लेवल के वर्कशॉप होना है जिसमे छत्तीसगढ़ के सभी जिले के पुलिस अधिकारियों को बुलाया जाएगा।

आज जनसुनवाई में कलेक्टर, एसपी सहित उपस्थित लोगों को महिला आयोग की मुख्यमंत्री महतारी न्याय रथ योजना की जानकारी देते हुए महिलाओं को अपनी अधिकारों और उत्पीड़न से जागरूक करने हेतु महिला आयोग के कार्यों की फिल्म सहित टोनही प्रताड़ना जैसे लघु फिल्म दिखाया गया, जिसमें ऑडियो वीडियो विजुअल के माध्यम में लोगों को जागरूक कैसे किया जा रहा है इसके बारे में बताया गया। साथ ही महिला आयोग की कार्यों की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी गई। जल्द ही जिले में मुख्यमंत्री महतारी न्याय रथ महिला आयोग के द्वारा भेजा जाएगा ताकि गांव-गांव में इसके माध्यम से विधिक कानूनी जागरूकता महिलाओं को प्रदान किया जा सके।

बैठक में शासकीय अधिवक्ता शमीम रहमान, डॉ अखिलेश कुमार भारद्वाज,जिला पंचायत अध्यक्ष  तुलिका कर्मा, महिला बाल विकास विभाग अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *